PAN Card Online कैसे बनाए | PAN Card Full Form In Hindi

PAN Card Full Form In Hindi

PAN Card क्या है, PAN Card को हम Online/Offline कैसे बना सकते है, बनाने के लिए किन-किन documents की जरूरत होती है, इसे बनाने में कितने पैसे खर्च होते है, आपको Card की जरूरत क्यों है ये सारी की सारी बातों पर आज हम बहुत ही विस्तार में चर्चा करेंगे, अगर आपको Card के बारे में विस्तार से जानना चाहते है तो इस Article को अंत तक पढें। 

PAN Card Full Form In Hindi

PAN Card को Permanent Account Number (स्थायी खाता संख्या) कहा जाता है जो की India में जो भी लोग Tax देते है उनके लिए ये Identification Number की तरह काम करता है। 

PAN क्या है?

PAN एक ऐसा Electric System है जिसकी मदद से किसी भी व्यक्ति/कंपनी के Tax से संबंधित जानकारी को एक Number में Record किया जा सकता है। कहने का मतलब PAN में आपके Tax से संबंधित सारी जानकारी होती है।

PAN Card आपके Identity के साथ ही Age Proof की भी जानकारी रखता है। अगर मैं Permanent Account Number Card के Structure के बारे में बात करूं तो-

Name of Card Holder/कार्ड धारक का नाम:- यहाँ पर उस व्यक्ति का नाम लिखा जाता है जिसके नाम पर Permanent Account Number Card बना है। 

Name of the father of the cardholder/कार्डधारक के पिता का नाम:- यह पर उस व्यक्ति के पिता का नाम लिखा होता है जिसके नाम पर ये Card है। 

Date of Birth/जन्म तिथि:- यहाँ पर Cardholder की जन्म की तारीख़ लिखी होती है। 

PAN Number:- PAN Number 10 अंको का होता है जिसमें अंग्रेजी के Alphabet भी होते है, ये Alphabets भी हमारे PAN के बारे में बहुत कुछ बताते हैं 

Permanent Account Number के पहले तीन लेटर्स alphabetical होते है जो की A से Z के बीच मे ही पाए जाते है। 

PAN का 4th लेटर उस Taxpayer की Category को दर्शाता है। यहाँ पर इस्तेमाल हुए Alphabets के अलग-अलग मायने होते है, चलिए एक बार उसपे भी ध्यान दे देते है। 

1.AAssociation of Persons (व्यक्तियों का संघ)
2.BBody of Individuals (व्यक्तियों का शरीर)
3.CCompany (कंपनी)
4.FFirms (फर्मों)
5.GGovernment (सरकार)
6.HHindu Undivided Family (हिंदू अविभाजित परिवार)
7.LLocal Authority (स्थानीय प्राधिकारी)
8.J Artificial Judicial Person (कृत्रिम न्यायिक व्यक्ति)
9.PIndividual (व्यक्ति)
10.TAssociation of Persons for a Trust (एक ट्रस्ट के लिए व्यक्तियों का संघ)

PAN का 5th लेटर उस व्यक्ति का surname होता है जिसके नाम पर वो PAN Card बना है। 

बचे हुए characters के कोई मायने नहीं होते है वो सभी वैसे ही चुने जाते है। 

Signature of Individual/व्यक्ति के हस्ताक्षर:- यहाँ पर उस व्यक्ति का हस्ताक्षर होता है जिसके नाम पर वो PAN Card बना है। 

Photograph of Individual/व्यक्ति की तस्वीर:- यहाँ पर उस व्यक्ति की तस्वीर होती है जिसके नाम पर वो Card बनाया गया है। 

PAN कौन बना सकता है? 

PAN Card कोई भी व्यक्ति, कंपनी या हर वो इंसान बना सकता है जो की India में रहकर सरकार को Tax भारत है। वैसे आज के वक्त में Permanent Account Number भारत के हर एक नागरिक के लिए बहुत ही जरूरी बन चुका है। आज के वक्त में Bank में, नौकरी में यहां तक की किसी भी सरकारी कार्य को पूरा करने में इसकी जरूरत पड़ जाती है। 

PAN के प्रकार

PAN सात प्रकार के होते है जिसके बारे में हम अभी जानने वाले है-

1.Hindu Undivided Family (HUF)
2.Individual
3.Company
4.Partnership
5.Society
6.Trusts
7.Foreigners

ये है वो सात तरीक़े के PAN जो की हर कोई अपने हिसाब से बना सकता है। 

PAN को बनाने के लिए जरूरी Documents!

Permanent Account Number Card बनाते वक्त आपसे दो कारणों की वजह से Documents मांगे जाते है पहला कारण, उन्हें आपकी Identity जाननी होती है दूसरा कारण उन्हें आपके Address Proof की जरूरत होती है। 

अगर आप Individual हो तो आप इन 4 Documents में से किसी भी Document को submit कर सकते है वो 4 Document इस प्रकार है। 

  • Voter ID
  •  Driving License
  • Aadhaar Card 
  • Passport

अगर आप Hindu Undivided Family (HUF) को belong करते है तो आपको निम्न Documents की जरूरत बढ़ेगी- 

  • परिवार के सदस्यों की ओर से अविभाजित का एक हलफनामा जिसमें सदस्य की जन्मतिथि, पहचान और सदस्यों के पते का सुबूत शामिल है।

अगर आप Trust के लिए Permanent Account Number Card बनवा रहे हो तो आपको- 

  • ट्रस्ट और चैरिटी कमिश्नर द्वारा जारी ट्रस्ट डीड और रजिस्टर्ड सर्टिफिकेट नंबर को साझा करना होगा। 

Society वालों के लिए, सहकारी समिति के आयुक्त द्वारा जारी पंजीकृत प्रमाण पत्र संख्या काफी है। 

अगर आप Foreigner हो और Permanent Account Number Card बनवाना चाहते हो तो आपको- 

  • आवासीय देश का बैंक विवरण
  • आपका पासपोर्ट
  • भारत में एनआरई (NRI) खाते का बैंक विवरण

इन तीनों चीज़ों को जमा करना होगा तब जाके आप Permanent Account Number Card बनवा सकते है। 

आपको PAN की जरूरत क्यों है? 

जैसा की मैंने आपको बताया की आज के वक्त में Permanent Account Number कितना जरूरी है, अगर आपके पास Permanent Account Number नहीं है तो आपके काफी सारे सरकारी/गैर-सरकारी काम को पूरा करने में बाधा का सामना करना पड़ सकता है।

  • ये एक तरीके से की Identity Proof भी मानी जाती है। 
  • इसमे लिखें Address को आपका Address Proof माना जाता है।
  • अगर आप Tax से related कोई काम करते है तो आपको Permanent Account Number की जरूरत पड़ती ही है। 
  • ये आपके Business संबंधी कार्यो में बहुत मदद करता है।
  • Permanent Account Number के माध्यम से आप बहुत ही आसानी से Financial Transactions कर सकते है।
  • Permanent Account Number आपके Bank Account को खोलने में मदद करता है, बिना Permanent Account Number के आपको Bank Account खोलने में काफी दिक्कत होती है।
  • Permanent Account Number आपके Phone Connections और Gas Connections जैसे कामों में भी काफी मदद करता है। 
  • Mutual Fund की e-KYC को पूरा करने के लिए Permanent Account Number जरूरी होता है।

e-KYC पूरा करने के लिए PAN का इस्तेमाल

PAN को Aadhaar Card से Link करने बाद ही आप किसी भी e-KYC को पूरा करने के लिए Permanent Account Number का इस्तेमाल कर सकते है और ये Linking अनिवार्य भी है। Permanent Account Number को Aadhaar Card से link करने के बहुत से फायदे है, जहाँ तक मैं जानता हूँ कोई भी e-KYC पुरा करने के लिए आपको Permanent Account Number की जरूरत बढ़ती ही है। 

e-KYC में PAN का इस्तेमाल Service Providers के सिर से Paperwork के काम को कम करता है जिससे उन्हें आपके सारे Documents को Manage करने में काफी मदद मिलती है और आसानी भी होती है। 

Permanent Account Number का इस्तेमाल आपको भी अपने साथ Documents के गट्ठर carry करने से बचाता है। केवल एक PAN की Detail को Share करके ही आप किसी भी Service Provider को अपनी पूरी Detail दे सकते है वो भी बिना लंबी चौड़ी लाइन में लगे और बिना घर से बाहर निकले। 

यहाँ पर इन सारे Process में आपके Permanent Account Number की Security की भी चिन्ता Service Providers को होती है जिस कारण वो हमेशा आपके Details को एक Secure Channels की मदद से ही Collect करते है ताकि कोई और इसका गलत इस्तेमाल ना कर सके। 

ये सारे Process Secure के साथ-साथ time saving भी होते है आपको Physical Documents को carry करके उधर-इधर नहीं भागना पड़ता। 

PAN के Form को भरते वक्त रखें इस बातों का ध्यान

  • Form को काफी भी small letters में न भरे, Form को हमेशा Capital Letter में भरे।
  • सभी Fields को भरे, जो भी जानकारी आपके पूछी जा रही है उसे ही लिखें।
  • Form में Mobile Number भरना अनिवार्य होता है तो इसे जरूर भरे।
  • Form को English Language में ही भरे।
  • Address को ध्यान से लिखें क्योंकि उसी Address पर आपका Permanent Account Number Card बनकर आने वाला है।
  • अपना नाम और Signature साफ-साफ लिखें।
  • जो Document Permanent Account Number में आपसे मांग जा रहा है उसे जरूर से दे नहीं तो आपकी Application Reject हो जाएगी।

PAN Card Online कैसे बनाये? 

Online Permanent Account Number Card बनाना बहुत ही आसान है। आपको बस नीचे दिए गए Points को follow करना है- 

1. सबसे पहले PAN – NSDL/UTIITSL के Official Website को Visit करें।

PAN Online Process

2. यहाँ पर आपको 49A/49AA (Indian/Foreigner) के Form को भरना है। 

New PAN Indian Citizen
Select Individual

3. उस Form में आपसे जो भी जानकर मांगी जा रही है सब कुछ भर दे। 

4. जो भी Document Required हो उसका भी Phone से Print निकालकर Form के साथ Upload कर दे। 

5. उसके बाद आपको उस Process के लिए Fee देना होगा। आप Credit Card, Debit Card, Net Banking, Paytm और UPI जैसे Payment methods को इस्तेमाल कर सकते है।

6. अब 15-20 दिन के अंदर आपको अपना Permanent Account Number Card आपके दिए हुए Address पर मिल जाएगा।

FAQ ( Frequently Asked Questions)

1. PAN का फुल फॉर्म क्या है? 

PAN का फुल फॉर्म Permanent Account Number (स्थायी खाता संख्या) होता है। 

2. PAN Card में गलत जानकारी है तो उसे कैसे सही करें? 

PAN की जानकारी को बदलने के लिए आपको नीचे के steps को follow करना होगा-

1. NSDL (एनएसडीएल) की वेबसाइट पर जाएं और अपडेट पैन सेक्शन को चुन लें।
2. मौजूदा पैन डेटा में “Correction” विकल्प चुनें। 

मैं आपको बता दु की अपने जानकारी को बदलने के लिए आपको (पीओआई/पीओए) दस्तावेजों की आवश्यक पड़ेगी। 

3. PAN Card के खो जाने पर क्या करना चाहिए? 

अगर आप अपना PAN Card खो चुके है तो घबराने की कोई बात नही है। आप Duplicate PAN Card के लिए Apply कर सकते है, ये Process Online और Offline दोनों ही तरीकों से किया जा सकता है। NSDL की Website पे जा के 49-A  Indian Citizen Form को भर के, Payment को Complete करके अपना Dublicate PAN Card मंगवा सकते है। इसे आने में 45 दिनों का वक्त लगता है। 

4. PAN Card कितने समय के लिए Valid होता है? 

ये लाइफटाइम के लिए valid होता है, एक बार बनाने के बाद आपको दुबारा कभी भी इसे नही बनाना पड़ेगा। 

5. PAN Application को कैसे Track करें? 

आप Website पर दिए गए Number और Gmail पर Contact करके अपने PAN Application की जानकारी प्राप्त कर सकते है। 

इसे भी पढ़े:- EWS Full Form In Hindi | EWS Certificate कैसे बनाये?

अंतिम शब्द

Permanent Account Number से जुड़ी सारी जानकारी मैंने आपको इस Post में देने की कोशिश की है। साथ में मैंने आपके साथ वो सारे Links भी शेयर किए है जिसकी मदद से आप Online Permanent Account Number के लिए Apply कर सकते है। मैं आशा करता हूं की आपके लिए मेरा ये Post helpful रहा होगा। अगर आपका कोई भी सवाल है तो नीचे comment करें। Permanent Account Number Card से related कोई भी issue है तो वो भी आप मुझे नीचे comment करके बता सकते है। 

Rating: 5 out of 5.

Suraj Jha

Hello Friends, मेरा नाम Suraj Jha है और मैं "Divineseo" का Founder हूँ , मैं पिछले २ सालो से SEO, Affiliate Marketing, Email Marketing, PPC Advertising जैसे Fields के बारे में study कर रहा हूँ इस वेबसाइट पर मैंने अपने expriences को शेयर किया है.

Recommended Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *