CEO कैसे बने | CEO Full Form In Hindi

CEO Full Form In Hindi

CEO का फुल फॉर्म क्या है, सीईओ कैसे बना जा सकता है, सीईओ काम कैसे करता है, क्या सीईओ ही किसी कंपनी का मालिक होता है, क्या सीईओ को हटाया जा सकता है, सीईओ और COB में क्या अंतर है, सीईओ और CFO में क्या अंतर है ये सारी जानकारी मै आपको इस पोस्ट के अंदर देने वाला हूँ।

CEO Full Form In Hindi

CEO का Full-Form Chief Executive Officer होता है। यह किसी भी Company या Organization के Senior Corporate Officer या Administration होते है। High-Level Strategies और Decision के पीछे किसी भी Company के सीईओ का ही हाथ होता है।

सीईओ अपने Company में काफी Famous होते है क्योंकि इनके बारे में Chief Executive से लेकर Board Of Directors और Normal Workers भी पता होता है। उद्धरण के दौर पर Mark Zukerberg के ही ले लेते है।

उन्हें कौन नहीं जानता जो नहीं जानते उन्हें मैं बता दू की ये Facebook के सीईओ है। सीईओ Office के हर काम की Detail Directly Chairman or Board Of Directors को देता है। हम यह कह सकते है की सीईओ इन दोनों के नीचे काम करते है। 

chief executive officer

Chief Positions 

विदेशी Companies में और भी Senior Officers होते है जो की “C” Letter से शुरू होते है। Senior Staff का जो Group होता है उसे C-Suit or C-Level भी कहते है। 

C-Level 

जब High-Level Position के Member को Execute करना होता है तो यह काम बहुत आसानी से हो जाता है। यही Association के Main Titles को भी Recommed करते है। Small Industries में Comapany का सीईओ काफी बार CFO की भी भूमिका निभाता है। इतना ही नहीं यह काफी बार Chief Operating Officer (COO) की भूमिका में भी होते है। 

CEO और COB में अंतर

सीईओ Company के परिचालन पहलुओं की देख रेख करता है और Board Of Directors को रोज़ Update देना इसका काम है। जो इन Boards का Leader होता है उसे हम Chairman Of Board कहते है। इस Board के पास इतनी ताकत होती है की यह CEO के Decision को बदल सकते है लेकिन एक अकेला Chairman कभी भी Board की बात को न मंजूर नहीं कर सकता।

Chairman को Board of Directors के कहे अनुसार ही काम करना पड़ता है। बहुत से Companies में Chairman और CEO दोनों एक ही होते है। 

CEO और CFO में अंतर 

CFO का मतलब होता है Chief Financial Officer यह भी आपको हर एक Company में देखने को मिल जाते है। जहाँ CEO Company के General Matters को संभालता है वही CFO Company के Financial Matters को देखता है। सिर्फ Company के Financial Strength को देखना ही इसका काम नही है बल्कि इसे कैसे और बढ़ाया जाए यह भी इनका ही काम होता है। 

CEO के बदलाव से क्या होता है? 

जब भी Company का chief executive officer Change किया जाता है तो Company पर इसका Negative Effect ज्यादा पड़ता है और Positive Effect तो न के बराबर ही होता है। इससे Company के Stock Price और Marketing Value में काफी Fluctuation (फेर बदल) देखने को मिलने लगती है।

ऐसा नहीं है की यह सारे बदलाव हमेशा Negative ही होती है कुछ Time बाद अगर उस Company का chief executive officer Well Skilled है तो यह सारे कमियां आसानी से दूर हो जाती है। 

CEO क्या-क्या कार्य है जाने

Company के Chairman और Board के Directors ने chief executive officer के लिए काफी Responsabilites Set की हुई है चलिए हम भी इनके बारे में जानते है। 

1. chief executive officer बड़े से बड़े Corporate Decisions को ले सकते है लेकिन यह सारे Decision Board of Directors के द्वारा बदले भी जा सकते है। 

2. इनका काम होता है की यह अपने Employes का ख्याल रखें और एक Healthy Working Environment Provides करा सके। 

3. Company के Employes को Motivate करना भी इन्ही का काम होता है। 

4. Company Level पर हो रहे सारे कामों को कैसे करना है यह भी CEO ही Decide करता है। 

5. Sub-Ordinates में कामों को ऐसे बांटना है इसकी responsibility भी chief executive officer पर ही होती है। 

क्या आप जानते है chief executive officer को काफी Companies में MD or ED भी कहा जाता है। MD का Full Form होता है Managing Director होता है और ED का Full Form Executive Director होता है। British English में MD शब्द और American English में CEO शब्द प्रचलित है। 

CEO की Education Qualification 

किसी भी Company में chief executive officer बनने के लिए कोई भी Education Qualification तय नहीं किया गया है। यह निर्णय Board Of Directors के द्वारा ही लिया जाता है, वो जिसे भी चाहे chief executive officer बना सकते है। ज्यादातर chief executive officer’s के पास MDA और Technical degree होती ही है। 

CEO Salary 

सीईओ की Salary Company पे ज्यादा Depend करती है। अगर आप एक अच्छे और Reputed Company के chief executive officer हो तो आप लाखों में कमा सकते है, अगर आप International Company के chief executive officer तो यह Salary करोड़ों में भी हो सकती है। 

FAQ

1. एक Company में CEO से ऊपर कौन होता है? 

CEO को किसी भी Company का सबसे high post माना जाता है, उसके बाद President आता है। 

2. क्या CEO को निकाला जा सकता है? 

CEO को केवल Company के Board Members की सहमति के द्वारा ही निकाला जा सकता है। 

3. क्या एक CEO उस Company का मालिक होता है? 

 नहीं ऐसा नहीं है, यहाँ पर आप ऐसा समझ सकते है की आप किसी चीज़ के मालिक है बस एक नियमित समय सीमा तक। CEO भी उस Company का मालिक होता है लेकिन केवल एक नियमित समय सीमा तक। 

4. दुनिया के सबसे जवाब CEO कौन है? 

Mark Zuckerberg जो की Facebook के CEO है। उनकी उम्र केवल 35 वर्ष है। 

5. CEO और MD में कौन सबसे ज्यादा Powerful होता है?

दोनों में से किसी के पास भी ज्यादा पावर नहीं होती है। Board के Members के पास ताकत होती है की वो जब चाहे तब CEO को निकाल सकते है। इसके अलावा CEO को अपने सारे Decisions को लेने से पहले Board के Members की सहमति लेनी पड़ती है। 

अंतिम शब्द

यहाँ पर मैंने chief executive officer के Position से जुड़े हर हर Facts को आपके सामने रखा ताकि आप इसे ठीक से समझ सके। इसके अलावा काफी Company chief executive officer के लिए Tanning भी Organize करते है। अगर आपको मेरा यह Post अच्छा लगा है तो हमें अभी नीचे Comment करें और अपना Feedback दे। 

इसे भी पढ़े:- Debited Meaning In Hindi

Suraj Jha

Hello Friends, मेरा नाम Suraj Jha है और मैं "Divineseo" का Founder हूँ , मैं पिछले २ सालो से SEO, Affiliate Marketing, Email Marketing, PPC Advertising जैसे Fields के बारे में study कर रहा हूँ इस वेबसाइट पर मैंने अपने expriences को शेयर किया है.

Recommended Articles

3 Comments

  1. […] इसे भी पढ़े:- CEO Full Form In Hindi  […]

  2. […] इसे भी पढ़े:- CEO Full Form In Hindi  […]

  3. […] में Mukesh Pant को KFC का CEO बना दिया गया था। यह Indian Institute Of Technology Kanpur में […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *